Sahara India Pariwar : कहीं आप का भी पैसा सहारा में तो नहीं फंसा है ? सुप्रीमकोर्ट के आदेश पर जाने अपना पैसा वापस लेने की प्रक्रिया

admin
By admin
sahara india pariwar news

केंद्रीय गृह मंत्री और सहकारिता मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को दिल्ली में सीआरसीएस-सहारा रिफंड पोर्टल का शुभारंभ किया। इस पोर्टल का उद्देश्य  Sahara India Pariwar समूह से जुड़े करोड़ों जमाकर्ताओं को उनका पैसा वापस दिलाने में उनकी मदद करना है।

Contents
क्यों बनाया गया पोर्टल, आखिर क्या है इस पर सुप्रीम कोर्ट का आदेश ?CRCS - Shara Refund Portal का मुख्य मकसद क्या है?CRCS - Shara Refund Portal लिंक और इसकी कार्यक्षमतारिफंड प्रक्रिया में दी जाने वाली राशि कितने से कितनी होगीजरुरी पात्रता और दावा की गई प्रक्रियासरकार द्वारा दी गयी समयसीमा और उनकी तैयारीFrequently Asked Question (FAQs)1. मैं सहारा रिफंड पोर्टल का उपयोग कैसे करूं?2. क्या मैं सहारा इंडिया में निवेश किया पैसा वापस पा सकता हूं?3. सहारा इंडिया निवेशको के रिफंड का पैसा कब देगी ?4. क्या सहारा 2023 में पैसा लौटा रहा है?5. सहारा इंडिया में क्या फैसला हुआ?6. सहारा रिफंड पोर्टल के लिए कौन पात्र है?7. सहारा में कितनी राशि वापस की जाएगी?8. सहारा इंडिया रिफंड के लिए सुप्रीम कोर्ट ने क्या आदेश सुनाया है?9. सहारा योजना के लिए क्या क्या डॉक्यूमेंट चाहिए?10. यदि किसी भी निवेशक के पास पैन कार्ड ना हो तो वह क्या करे ?11. क्या जमाकर्ता को अपना पैसा वापस लेने लिए मोबाइल नंबर और बैंक अकाउंट होना जरुरी है?12. क्या सहारा इंडिया रिफंड के लिए अप्लाई करने वाले निवेश कर्ता को कोई शुल्क देना होगा ?13. क्या जमाकर्ता क्लेम फॉर्म जमा करने के बाद में उसमें बदलाव कर सकता है?14. निवेशकर्ता को यह कैसे पता चलेगा कि उसका फॉर्म सरकारी वेबसाइट पर भर दिया गया है15. निवेशकर्ता को उनके द्वारा जमा की गयी राशि कितने दिनों में मिल जाएगी ?

Table of Contents

क्यों बनाया गया पोर्टल, आखिर क्या है इस पर सुप्रीम कोर्ट का आदेश ?

सहकारिता मंत्रालय ने सहारा इंडिया ग्रुप की सहकारी समितियों के भरोसेमंद सदस्यों और जमा करने वाले जमाकर्ताओं की शिकायतो के निवारण के लिए सुप्रीम कोर्ट में 17 जुलाई को एक आवेदन पत्र दायर किया था। 29 मार्च, 2023 को सुप्रीम कोर्ट ने अपने निर्देश में सहकारी समितियों के केंद्रीय रजिस्ट्रार को सहारा समूह की सहकारी समितियों के भरोसेमंद सदस्यों और जमाकर्ताओं की बकायी राशि की भुगतान करने के लिए ‘सहारा-सेबी रिफंड खाते’ से 5000 करोड़ रुपये हस्ताछरित करने का आदेश दिया था।

sahara india pariwar

CRCS - Shara Refund Portal का मुख्य मकसद क्या है?

CRCS – Shara Refund Portal उन भरोसेमंद जमाकर्ताओं के दावों को विकसित किया गया है, जिन लोगो ने सहारा समूह की सहकारी समितियों में अपने मेहनत के पैसा को निवेश किया था, जिसमें सहारा क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड, सहारायन यूनिवर्सल मल्टीपर्पज सोसाइटी लिमिटेड, हमारा इंडिया क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड और स्टार्स मल्टीपर्पज कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड भी शामिल हैं। सहारा क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड, सहारायन यूनिवर्सल मल्टीपर्पज सोसाइटी लिमिटेड, हमारा इंडिया क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड और स्टार्स मल्टीपर्पज कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड में तकरीबन 2.5 करोड़ लोगों के न्यून्तम 30,000 रुपये तक की राशि जमा हैं।

Sahara Refund Portal photo

CRCS - Shara Refund Portal लिंक और इसकी कार्यक्षमता

CRCS – Shara Refund Portal का लिंक सहकारिता मंत्रालय की सरकारी वेबसाइट (www.cooperation.gov.in) पर स्थित है। फिलहाल पोर्टल की ऑनलाइन लिंक 18 जुलाई की दोपहर को 02.40 तक शुरू ही नहीं हुआ था । इसकी जल्द ही शुरू होने की पूर्ण संभावना है।

रिफंड प्रक्रिया में दी जाने वाली राशि कितने से कितनी होगी

शुरुवात के चरण में रिफंड पोर्टल अपने जमाकर्ताओं द्वारा जमा की गई राशि का 5000 करोड़ रुपये तक वितरित करेगा। सभी जमाकर्ता अपने पहले चरण में ज्यादा से ज्यादा 10,000 रुपये पा सकेगे । सफल परीक्षण होने के बाद रिफंड की राशि में बढ़ोतरी कर दी जाएगी।

जरुरी पात्रता और दावा की गई प्रक्रिया

शुरुवात के पहले चरण में 1 करोड 7 लाख जमाकर्ता रिफंड पोर्टल की वेबसाइट पर जाकर अपना पंजीकरण कर सकते हैं शुरुवाती चरण के दौरान 10,000 रुपये से ज्यादा का दावा नहीं कर सकते। और अगले चरण में मात्र 4 करोड़ निवेशक 10,000 रुपये तक ही दावा करने के योग्य होंगे। दावा करने के लिए, निवेशको का आधार कार्ड नंबर उनके मोबाइल नंबर से जुड़ा होना चाहिए और साथ ही में उनके बैंक खाते से भी जुड़ा होना चाहिए। जमा की गयी राशि की रसीद भी उनके पास ही होना चाहिए। निवेशकर्ताओ को आगे के रिफंड के लिए एक ऑनलाइन फॉर्म डाउनलोड करके , उसे भरने और पोर्टल पर फिर से अपलोड करने की पूर्ण आवश्यकता होगी।

इसे भी क्लिक करे =  सीमा हैदर के झूठ की न रही कोई ‘सीमा’ यूपी एटीएस की पूछताछ में खुले सीमा और सचिन के दबे हुई राज

sahara india documents

सरकार द्वारा दी गयी समयसीमा और उनकी तैयारी

गृह मंत्री अमित शाह ने भरोशा दिया हुआ कि मात्र 45 दिनों के ही अंदर दावेदारों के बैंक खातों में उनका पैसापूर्ण रूप से जमा करवा दिया जाएगा। इस प्रक्रिया के सफल होने के तुरंत बाद सहारा समूह की सहकारी समितियों के अंदर फंसी भारी रकम वाले निवेशकर्ताओ का समाधान करने का निर्णय लिया जाएगा।

Frequently Asked Question (FAQs)

1. मैं सहारा रिफंड पोर्टल का उपयोग कैसे करूं?

सहारा रिफंड पोर्टल का उपयोग करने के लिए आप को सबसे पहले इस वेबसाइट पर जाना होगा https://mocrefund.crcs.gov.in/ फिर यहां पर आप को इसके द्वारा मांगी हुई पूर्ण जानकारी देकर आप अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। .

2. क्या मैं सहारा इंडिया में निवेश किया पैसा वापस पा सकता हूं?

हाँ ,सबसे पहले आपको अपना पैसा पाने लिए सहारा इंडिया की इस वेबसाइट https://mocrefund.crcs.gov.in/ पर जा कर आबेदन करना होगा

3. सहारा इंडिया निवेशको के रिफंड का पैसा कब देगी ?

सहारा इंडिया अपने निवेशको का पैसा मात्र 45 दिनों के ही अंदर उनके बैंक खातों में जमा करवा देगी ।

4. क्या सहारा 2023 में पैसा लौटा रहा है?

हां ,शुरुवात के पहले चरण में 1 करोड 7 लाख जमाकर्ता रिफंड पोर्टल की वेबसाइट पर जाकर अपना पंजीकरण कर सकते हैं शुरुवाती चरण के दौरान 10,000 रुपये से ज्यादा का दावा नहीं कर सकते।

5. सहारा इंडिया में क्या फैसला हुआ?

केंद्रीय गृह मंत्री और सहकारिता मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को दिल्ली में सीआरसीएस-सहारा रिफंड पोर्टल का शुभारंभ किया। इस पोर्टल का उद्देश्य  Sahara India Pariwar समूह में निवेश किए हुए सभी निवेशको को पैसे दिलाना है

6. सहारा रिफंड पोर्टल के लिए कौन पात्र है?

इसमें केवल चार सहारा समूह सोसायटी शामिल है 1. सहारा क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड, 2. सहारायन यूनिवर्सल मल्टीपर्पज सोसाइटी लिमिटेड, 3. इंडिया क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड और 4. स्टार्स मल्टीपर्पज कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड

7. सहारा में कितनी राशि वापस की जाएगी?

शुरू में सभी निवेशकर्ता को उनके पहले चरण में उन्हें ज्यादा से ज्यादा 10,000 रुपये दिए जाएगे। अगर परीक्षण सफल हुआ रिफंड की राशि में और अधिक बढ़ोतरी कर दी जाएगी।

8. सहारा इंडिया रिफंड के लिए सुप्रीम कोर्ट ने क्या आदेश सुनाया है?

सुप्रीम कोर्ट में 17 जुलाई को एक आवेदन पत्र दायर किया था। 29 मार्च, 2023 को ‘सहारा-सेबी रिफंड खाते’ से 5000 करोड़ रुपये हस्ताछरित करने का आदेश दिया था।

9. सहारा योजना के लिए क्या क्या डॉक्यूमेंट चाहिए?

सर्वप्रथम जमाकर्ता का आधार कार्ड नंबर उनके मोबाइल नंबर से जुड़ा होना चाहिए और साथ ही वह मोबाइल नंबर और आधार कार्ड नंबर में उनके बैंक खाते से भी अटैच होना चाहिए। और उनके द्वारा जमा की गयी राशि की रसीद भी बहुत है ज्यादा जरुरी है।

10. यदि किसी भी निवेशक के पास पैन कार्ड ना हो तो वह क्या करे ?

ऐसे निवेशकर्ता को को अपना पैन कार्ड बनवाना होगा और उसे बैंक में अपने खाते से लिंक करवाना होगा , अन्यथा उन्हें उनका पैसा नहीं मिलेगा

11. क्या जमाकर्ता को अपना पैसा वापस लेने लिए मोबाइल नंबर और बैंक अकाउंट होना जरुरी है?

हाँ , जमाकर्ता को अपना पैसा वापस लेने के लिए आधार से जुड़ा मोबाइल नंबर होना बहुत ही ज्यादा महत्यपूर्ण है।

12. क्या सहारा इंडिया रिफंड के लिए अप्लाई करने वाले निवेश कर्ता को कोई शुल्क देना होगा ?

नहीं, यह सरकार द्वारा पूर्ण रूप से मुफ्त है। इसके लिए जमा कर्ता को कोई शुल्क देने की जरुरत नहीं है ।

13. क्या जमाकर्ता क्लेम फॉर्म जमा करने के बाद में उसमें बदलाव कर सकता है?

बिल्कुल नहीं, क्लेम फॉर्म एक बार भरने के निवेशकर्ता इसमें कोई भी बदलाव करने के योग्य नहीं होगा। अतः आप से गुजारिश है की अपना फॉर्म एक हे बार अच्छे से जांच कर भरे।

14. निवेशकर्ता को यह कैसे पता चलेगा कि उसका फॉर्म सरकारी वेबसाइट पर भर दिया गया है

निवेशकर्ता द्वारा भरे गए क्लेम फॉर्म को जमा करते ही वेबसाइट पर उनकी रसीद संख्या दिखाई देगी और कुछ ही देर में उनके द्वारा रजिस्टर्ड किए गए मोबाइल नंबर उन्हें एक SMS प्राप्त होगा ।

15. निवेशकर्ता को उनके द्वारा जमा की गयी राशि कितने दिनों में मिल जाएगी ?

अप्रूवल मिलने के बाद उन्हें जिस तारीख को उनका पैसा वापस देने का दावा किया है उसके मात्र 45 दिनों के भीतर उनकी राशि उनके खाते में भेज जी जायेगी।

Share This Article
Leave a comment